कॉल 1917 या 26594500/ 61564500

Mahanagar Gas

होमकॉर्पोरेट

नेतृत्व

श्री भुवन चंद्र त्रिपाठी

चेयरमैन

श्री भुवन चंद्र त्रिपाठी, चेयरमैन और मैनेजजिंग डायरेक्टर, गेल (इंडिया) लिमिटेड को बोर्ड के निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है और 29 नवंबर 2018 से प्रभावी तौर से महानगर गैस लिमिटेड के चेयरमैन के रूप में चयनित किया गया.

श्री त्रिपाठी 01 अगस्त 2009 से चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर हैं और वे जुलाई 2007 से कंपनी के निदेशक मंडल के सदस्य हैं. उनके नेतृत्व में और सतत प्रयासों से जीएआईएल शीर्ष 10 अंतर्राष्ट्रीय एलएनजी पोर्टफोलियो वाली कंपनियों में शामिल है और ये ‘महारत्न’ पब्लिक सेक्टर एंटरप्राइज के ऊँचे दर्जे में भी खडी है.

गेल ने गैस ट्रांसमिशन की क्षमता को दुगुना करते हुए, पेट्रोकेमिकल्स के विपणनयोग्य पोर्टफोलियो को तिगुना करते हुए पिछले दशक के दौरान नैचुरल गैस के मिडस्ट्रीम और डाउनस्ट्रीम चेन्स में अपने मुख्य बिजनेस को सशक्त किया है और इसने भारत की ऊर्जा सुरक्षा को आधार देने के लिए बहुविध सूचकांकों पर, विविधतापूर्ण भौगोलिक क्षेत्रों से 8.0 एमटीपीए दीर्घ-कालिक एलएनजी को सुरक्षित करते हुए नए खेल का रुख मोडनेवाले व्यवसायों में कदम रखा है. गेल ने कमजोर दाभोल रिगैस टर्मिनल को ओनर्स इयंजीनियर के रूप में कमिशन किया और उसे एलएनजी ट्रेडिंग सायकल में संपूर्ण रूप से काम करने की क्षमता सुनिश्चित करते हुए चार्टरिंग एलएनजी शिप्स को विस्तारित किया. अंतर्राष्ट्रीय एलएनजी और एनजी बाजारों में एक उल्लेखनीय कंपनी में गेल को रूपांतरित करने के लिए अपने पथप्रदर्शक उपक्रमों को पहचान देने के लिए श्री त्रिपाठी को 14वें डब्ल्यूसी समिट, पेरिस में ‘‘बेस्ट एलएनजी एक्जिक्यूटिव’’के रूप में सम्मानित किया गया.

एमएनएनआईटी, इलाहाबाद से मेकैनिकल इंजीनियरिंग करनेवाले श्री भुवन चंद्र त्रिपाठी मल्टी-बिलियन डॉलर इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स का नेतृत्व कर चुके हैं और उन्होंने अपने 35 वर्ष के समृद्ध अनुभव के अधार पर तथा नैचुरल -को एनर्जी की नीतियों और नियमों को आकर देने के लिए सामूहिक निर्णय के आधार पर सरकार तथा हितधारकों को दृढता से समर्थन दिया है.

श्री दीपक सावंत

उप प्रबंध निदेशक

श्री दीपक सावंत को 09 मई, 2019 से महानगर गैस लिमिटेड (एमजीएल) के बोर्ड में उप प्रबंध निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया।

श्री दीपक सावंत मैकेनिकल इंजीनियर हैं जिन्हें रासायनिक और हाइड्रोकार्बन क्षेत्र का गहन ज्ञान है। वह वर्ष 1991 में गेल (इंडिया) लिमिटेड में शामिल हो गए। अपने कार्यकाल के दौरान, वे एलपीजी रिकवरी प्लांट और एलपीजी ट्रांसपोर्ट पाइपलाइन सहित विभिन्न परियोजनाओं में शामिल रहे। सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन में उनका व्यापक अनुभव है। वे एमजीएल के प्रारंभिक निर्माण अवधि के दौरान वर्ष 1997-2000 तक महानगर गैस लिमिटेड, मुंबई के साथ थे। उन्होंने पीएनजीआरबी (ऑयल एंड गैस रेगुलेटर से) में 2007-2013 में काम किया और सीजीडी और एनजी पाइपलाइन रेगुलेशन बनाने वाली टीम के सदस्यों में से एक थे।

उप-प्रबंध निदेशक के रूप में एमजीएल में शामिल होने से पहले, श्री. सावंत गेल गैस लिमिटेड के साथ रहे और बेंगलुरु सहित सीधे 6 भौगोलिक क्षेत्रों को और जेवी भागीदारों के साथ 6 भौगोलिक क्षेत्रों को संभाल रहे थे। वे 9 वें और 10 वें बिडिंग राउंड में भी अग्रणी थे, जो गेल गैस को कुल 11 नए भौगोलिक क्षेत्र प्रत्यक्ष और 2 नए जीए थ्रू जेवी प्राप्त कर सके थे।

उनके पास गैस व्यवसाय में कुल 28 वर्षों का समृद्ध अनुभव है जिसमें प्राकृतिक गैस की खोज और उत्पादन के लिए म्यांमार में विदेशी असाइनमेंट शामिल है। साथ ही वे हरिद्वार प्राकृतिक गैस प्राइवेट लिमिटेड, गोवा प्राकृतिक गैस प्राइवेट लिमिटेड सहित विभिन्न संयुक्त उद्यम कंपनियों में बोर्ड ऑफ डायरेक्टर और केरल गेल गैस लिमिटेड में प्रबंध निदेशक का पद संभाल रहे हैं।

श्री त्रिविक्रम अरुण रामनाथन

निदेशक

श्री त्रिविक्रम अरुण रामनाथन, बीजीएपीएच नॉमिनी, को महानगर गैस लिमिटेड बोर्ड के गैर कार्यकारी निदेशक के रूप में 10 मई 2019 से प्रभावी नियुक्त किया गया।

श्री त्रिविक्रम टेक्नो कमर्शियल पृष्ठभूमि के एक सामान्य प्रबंधन शेल कार्यकारी हैं और विभिन्न प्रकार की व्यावसायिक / डील मेकिंग, परिचालन / सुरक्षा, विवाद समाधान, उद्यम विकास और विनियामक / वकालत की भूमिकाएं, एकीकृत गैस और पावर, एलएनजी, अपस्ट्रीम एक्सप्लोरेशन और मध्य पूर्व, यूरोप / यूके, सुदूर-पूर्व और दक्षिण एशिया में फैले उत्पादन का व्यवसाय प्रशासन का अनुभव रखते हैं। अपने वर्तमान असाइनमेंट में, जिसमें उन्हें 2018 में नियुक्त किया गया था, वह भारत में शेल के अपस्ट्रीम व्यवसाय के महाप्रबंधक और बीजी एक्सप्लोरेशन एंड प्रोडक्शन इंडिया लिमिटेड (रॉयल डच शेल की 100% सहायक कंपनी) के प्रबंध निदेशक के रूप में कार्य कर रहे हैं, जो तेल और गैस शेल के इंटीग्रेटेड गैस बिजनेस पोर्टफोलियो में 600 से अधिक अनुभवी पेशेवरों के समुदाय के साथ उत्पादन सहायक है।

बाहर के काम, श्री त्रिविक्रम कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के विनिर्माण संस्थान में और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई में विजिटिंग कॉर्पोरेट स्पीकर हैं। साथ ही वे एनर्जी एंड सस्टेनेबिलिटी स्पेस में लंदन स्टार्ट-अप समुदाय में परामर्श के लिए सक्रिय रूप से शामिल हैं और लंदन के हार्वर्ड बिजनेस स्कूल एंजेल्स एसोसिएशन के सदस्य हैं। उन्हें खेल (टेनिस, तैराकी, और गोल्फ) का शौक है, पियानो, खगोल विज्ञान और पशु कल्याण खेलने का आनंद उठाते हैं और कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में वोल्फसन कॉलेज के आजीवन सदस्य हैं।

श्री त्रिविक्रम के पास नानयांग टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी, सिंगापुर से नानयांग स्कॉलर के रूप में फर्स्ट क्लास ऑनर्स के साथ स्नातक इंजीनियरिंग की डिग्री है; कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय से गेट्स कैम्ब्रिज स्कॉलर के रूप में मास्टर्स किया है और सर फ्रेडरिक अल्फ्रेड वॉरेन पुरस्कार से सम्मानित हैं; हार्वर्ड बिजनेस स्कूल, यूएसए से डिस्टिंक्शन के साथ जनरल मैनेजमेंट में एमबीए किया है और मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट फॉर टेक्नोलॉजी, यूएसए से रिन्यूएबल एंड सस्टेनेबल एनर्जी में एडवांस्ड कोर्स पूरा किया है।

श्री संजीव दत्ता

मैनेजिंग डायरेक्टर

30 मई, 2018 से श्री संजीव दत्ता को बोर्ड ऑफ़ महानगर गैस लिमिटेड (एम जी एल) के मैनेजिंग डायरेक्टर के रूप में नियुक्त किया गया है।

एम जी एल में शामिल होने से पहले श्री दत्ता गेल (इंडिया) लिमिटेड में एक्ज़ेक्यूटिव डायरेक्टर के रूप में बिज़नैस डेवलपमेंट विभाग के प्रमुख थे।

इनके पास नैचरल गैस सेक्टर में मल्टी़फेरियस असाइनमेंट्स संभालने का 32+ का अनुभव मौजूद है। जिसमें अलग-अलग कार्य शामिल हैं जैसे बिज़नैस डेवलपमेंट, मार्केटिंग, प्रोजेक्ट डेवलपमेंट और कन्सट्रॅक्शन के साथ-साथ पाइपलाइन्स का ऑपरेशन और एल एन जी टर्मिनल।

गेल में अपने कार्यकाल के दौरान इन्होंने मर्जर और अक्वीज़ीशन प्रयासों के अलावा, ग्लोबलाइज़ेशन और डायवर्सीफ़िकेशन को भी बढ़ावा दिया। इन्होंने गेल को यू एस ए में शेल गैस एसेट में सहभागिता के लिए प्रोत्साहित किया। साथ ही, गैस सप्लाय को अंतिम रूप देने वाली और कोव पॉइंट स्थित एल एन जी लिक्वी़फेक्शन से संबंधित टोलिंग सर्विस एग्रीमेंट्स करने वाली टीम का भी नेतृत्व किया। श्री संजीव दत्ता ने टी ए पी आई पाइपलाइन के ज़रिए भारत में गैस को आयात करने के प्रयासों में पहल करने के अलावा, चीन, इजिप्त औय म्यानमार में सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन के क्षेत्रों और क्रॉस कंट्री पाइपलाइन में गेल के निवेशों की ज़िम्मेदारी भी निभाई।

भारत में श्री संजीव दत्ता ने गेल के सोलार बिज़नैस के प्रथम प्रयासों का नेत्तृत्व करने के अलावा, फ़्लोटिंग एल एन जी रीगैसीफ़िकेशन टर्मिनल्स, एल एन जी शिपिंग, गैस आधारित पावर जनरेशन, पेट्रोकैमिकल्स और स्पेशिलिटी कैमिकल्स आदि जैसे अलग-अलग क्षेत्रों में किए जाने वाले गेल के प्रयासों को आगे बढ़ाया। एक प्रोजेक्ट मैनेजर के रूप में इन्होंने एनरॉन के प्रस्थान के बाद दाभोल परियोजना के पुन: निर्माण और पुन: प्रचनल में गेल की सहभागिता का भी संचालन किया।

श्री दत्ता के पास बोर्ड लैवल का गहन अनुभव मौजूद है। इन्होंने बोर्ड्स ऑफ़ गेल ग्लोबल (यू एस ए) इन्क. में भी अपनी सेवाएं प्रदान कीं, जो गेल के सम्पूर्ण स्वामित्व अधीन एक सहायक कंपनी है, जिसके माध्यम से गेल यू एस ए के अलावा, साउथ ईस्ट एशिया गैस पाइपलाइन कंपनी, टी ए पी आई पाइपलाइन कंपनी लिमिटेड, नेशनल गैस कंपनी लिमिटेड तथा फेयम गैस लिमिटेड सोर्सिंग में अपने कारोबार को चैनलाइज़ करते हैं। यही नहीं, ये बोर्ड ऑफ़ ओ एन जी सी पेट्रो - एडीशन्स लिमिटेड में गेल के नॉमीनी डायरेक्टर भी हैं।

श्री संजीव दत्ता ने जादवपुर युनिवर्सिटी कोलकाता से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बैचलर्स की डिग्री भी हासिल की है।

सुश्री सुष्मिता सेन गुप्ता

तकनीकी निदेशक

सुश्री सुष्मिता सेन गुप्ता को 15 फरवरी, 2014 से प्रभावी बोर्ड में तकनीकी निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है।

महानगर गैस लिमिटेड में शामिल होने से पहले, वे डीसीपी मिडस्ट्रीम, डेनवर/ मिडलैंड, सीओ/टीएक्स, अमेरिका में इंजीनियरिंग, परियोजना प्रबंधन में निदेशक के पद पर थीं। सुश्री सेनगुप्ता, ने अन्य बातों के साथ बहुआयामी परिचालन आस्तियों (पाइप लाइन, कंप्रेसर स्टेशनों, प्रसंस्करण संयंत्रों) के लिए आंतरिक और ईपीसीएम इंजीनियरिंग/ निर्माण परियोजना गतिविधियों का नेतृत्व किया है। वह परियोजना नियंत्रण/ फोरकास्टिंग/ रिपोर्टिंग गतिविधियों के प्रबंधन में हाथ अजमाया है। उन्होंने इंजीनियरिंग और एचएसई के लिए आवश्यक प्रमाण पत्र, प्रेक्टिस, नीतियों, प्रक्रियाओं को तैयार और लागू किया और कर्मचारी और ईपीसीएम परफार्मेंस समीक्षा का प्रबंध किया है।

उनके पूर्व अनुभव में शामिल है परियोजना निदेशक, इएनओजीइएक्स/ ओजीई के लिए परियोजना प्रबंधन, ओक्लाहोमा सिटी, ओके, अमरीका के रूप में, इंजीनियरिंग प्रबंधक के रूप में, वरमोंट गैस सिस्टम के लिए इंजीनियरिंग और ज़ंग विभाग, बर्लिंगटन, वीटी, अमेरिका, औपचारिक नेता के रूप में, दक्षिण पूर्व क्षेत्र, एमआईसीएच सीओएन गैस कंपनी, डेट्रोइट, एमआई, अमरीका के लिए निर्माण और रखरखाव, ब्रिटिश गैस पीएलसी., लंदन/ लाफबरो, और दूसरों के बीच ब्रिटेन के लिए कार्यक्रम प्रबंधक के रूप में काम करना। उनके कैरियर की अवधि के दौरान, जिम्मेदारियों में शामिल है परियोजना बजट नियंत्रण और वित्तीय रिपोर्टिंग के सभी चरणों का प्रबंधन, कंपनी विनिर्देशों और नियामक मानकों के अनुसार परियोजना चलाना सुनिश्चित करना और अनुबंध के अनुसार लागू करना, समूह के व्यापार की योजना और बजट तैयारी करना और बनाए रखना।

सुश्री सुष्मिता सेनगुप्ता कैलगरी, अलबर्टा विश्वविद्यालय केमिकल और पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में एम एससी हैं और अलबर्टा ऑइल सैंडस टेक्नोलॉजी एण्ड रिसर्च अथारिटी स्कालरशिप से एओएसटीआरए स्कालर हैं। वह पेशेवर इंजीनियर, कनाडा, पाइपलाइन इंस्पेक्टर्स सर्टिफिकेशन, कनाडा और जीआरआई/ पीआरसीआई एनडीटी कमेटी, नॉर्थ- ईस्ट गैस एसोसिएशन, एजीए, एएसएमई, एसीएक्जई से संबद्ध हैं।

श्री प्रेमेश कुमार जैन

डायरेक्टर

श्री प्रेमेश कुमार जैन को 09 अप्रैल 2018 से स्वतंत्र नॉन-एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर के रूप में नियुक्त किया गया है.

श्री प्रेमेश कुमार जैन, पुर्व निदेशक (फायनांस) गेल के पास गेल में और उसकी विभिन्न देशी और अंतर्राष्ट्रीय अधीनस्थ कंपनियों जैसे गेल ग्लोबल (सिंगापुर) पीटीई. लि., गेल गैस लि., बीसीपीएल चाइना गैस लि. और गेल चाइना ग्लोबल एनर्जी होल्डिंग लि. में 6 वर्ष से अधिक समय तक बोर्ड स्तर का अनुभव है. आपने कंपनी के बोर्ड की विभिन्न समितियों, पीएफ ट्रस्ट, पेंशन ट्रस्ट, ग्रैच्युइटी फंड ट्रस्ट में भी चेयरमैन/ सदस्य के रूप में सेवा दी है.

चार्टर्ड अकाउंटेंट और एमबीए (युनिवर्सिटी ऑफ हल, यूके) रहे श्री जैन के पास ऑयल एंड गैस सेक्टर में फॉरेक्स रिस्क मैनेजमेंट तथा हेजिंग पॉलिसी के क्रियान्वयन के क्षेत्रों में करीब 35 वर्ष का अनुभव है. कैपिटल बजेटिंग, कॉर्पोरेट बजट्स, कॉर्पोरेट अकाउंट्स, कॉन्ट्रैक्ट मैनेजमेंट, दीर्घ कालिक एलएनजी और गैस समझौतों के फायनलाइजेशन, लिक्विफिकेशन और रिगैसिफिकेशन टर्मिनल सर्विस एग्रीमेंट्स, शेयरहोल्डर एग्रीमेंट्स तथा जॉइंट वेंचर एग्रीमेंट्स इ. के क्षेत्रों में 35 वर्ष का अनुभव है. आपके विभिन्न पाइपलाइन्स के टैरिफ फाइनलाइजेशन, पीएनजीआरबी/ एपीटीईएल के साथ मामलों को उठाने/ समाधान करने, नैचुरल गैस पाइपलाइन की बोली प्रक्रिया में सहभाग लेने और विभिन्न शहरों के लिए गेल, उसकी अधीनस्थ कंपनी, जेवी इ. के जरिए विभिन्न मामलों के लिए पीएनजीआरबी के साथ संवाद करने का श्रेय भी आपको जाता है.

श्री अरुण बालाकृष्णन

निदेशक

श्री अरुण बालाकृष्णन को स्वतंत्र गैर कार्यकारी निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है।

श्री अरुण बालाकृष्णन, 64 वर्ष के हैं, जो जुलाई 2010 में हिंदुस्तान पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) से अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक के रूप में सेवानिवृत्त हुए, वे कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, त्रिचूर, केरल से बी.ई. (केमिकल) में स्नातक हैं और इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, बंगलौर, 1976 से प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमा रखते हैं।

उन्होंने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, बंगलौर से ‘प्रतिष्ठित पूर्व छात्र पुरस्कार 2008’ प्रदान किया था।

श्री अरुण बालाकृष्णन मेसर्स एचपीसीएल-मित्तल पाइपलाइन लिमिटेड, मेसर्स एनसीडीईएक्स ई-मार्केट्स लिमिटेड, मेसर्स लिंडे इंडिया लिमिटेड, मेसर्स लिंडे इंडिया लिमिटेड, मेसर्स जेपीपी इन्फ्राटेक लिमिटेड, मेसर्स केएसएस ग्लोबल बीएलवी, मेसर्स एंट्रिक्स कॉरपोरेशन लिमिटेड और मेसर्स जयप्रकाश पावर वेंचर्स लिमिटेड के बोर्ड में निदेशक रहे हैं। इसके अलावा, श्री बालाकृष्णन इंस्टीट्यूट ऑफ डाइरेक्टर, बेंगलोर के मानद अध्यक्ष के रूप में भी नियुक्त किए गए।

सुश्री राधिका हरिभक्ति

निदेशक

सुश्री राधिका हरिभक्ति को 05 मार्च 2017 से प्रभावी स्वतंत्र नॉन- एग्ज़िक्युटिव निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है।

सुश्री राधिका हरिभक्ति आईआईएम, अहमदाबाद से वित्त में एमबीए हैं। वह गुजरात विश्वविद्यालय से वाणिज्य स्नातक हैं। सुश्री हरिभक्ति को बैंक ऑफ अमेरिका, जेएम मॉर्गन स्टेनली और डीएसपी मेरिल लिंच के साथ वाणिज्यिक और निवेश बैंकिंग में 30 से अधिक वर्षों का अनुभव है। उन्होंने कई बड़ी कम्पनियों को सलाह दी है और घरेलू तथा अंतरराष्ट्रीय पूंजी बाजार में उनकी इक्विटी और ऋण धन उगाहनों का नेतृत्व किया है। वे अब आरएच फाइनेंशियल की प्रमुख हैं, जो बुटीक सलाहकार फर्म है और एम एण्ड ए और प्राइवेट इक्विटी पर केंद्रित है।

उन्होंने अदानी पोर्ट्स एण्ड स्पेशल इकॉनोमिक जोन, ईआईएच एसोसिएटेड होटल्स लि, आईसीआरए लि, नवीन फ्लोराइन इंटरनेशनल लि, रेन इंडस्ट्रीज लि और विस्तार फाइनेंशियल सर्विसेज प्रा लि के बोर्डों पर स्वतंत्र निदेशक के रूप में वे कार्य कर रही हैं।

सुश्री हरिभक्ति महिला सशक्तिकरण, वित्तीय समावेशन और सीएसआर के मुद्दों के साथ भी निकट रूप से जुड़ी हुई हैं और 18 वर्षों से गैर-लाभकारी बोर्डों में सेवा की है, जिसमें 12 वर्ष अध्यक्ष रहना भी शामिल है। वे फ्रेंड्स ऑफ विमिन्स वर्ल्ड बैंकिंग (एफडब्ल्यूडब्ल्यूबी) और स्वाधारफाइनेंस की पूर्व अध्यक्ष रही हैं, दोनों नॉन- प्राफिट आर्थिक रूप से वंचित समुदायों में महिलाओं को वित्तीय समाधान प्रदान करने के कार्य से जुड़ी हैं। उन्होंने राष्ट्रीय जूरी और गवर्निंग काउंसिल ऑफ सिटीग्रुप माइक्रो एंटरप्राइज अवार्ड और सीआईआई के महिला सशक्तीकरण पर राष्ट्रीय समिति में भी काम किया है।

श्री संतोष कुमार

निदेशक

श्री संतोष कुमार को स्वतंत्र गैर कार्यकारी निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है।

श्री संतोष कुमार, जो गेल से निदेशक (परियोजना) के रूप में सेवानिवृत्त हुए हैं, वे मोतीलाल नेहरू इंजीनियरिंग कॉलेज, इलाहाबाद (1970 बैच) से इलेक्ट्रिकल इंजीनियर हैं। उनका उर्वरक एवं दूरसंचार में कुल तीस से अधिक वर्षों का अनुभव है इसके बाद बड़ा हिस्सा तेल और गैस उद्योग भारत में, विशेषकर मानव संसाधन विकास कौशल के क्षेत्र में समृद्ध और विविध अनुभव और बाद में परियोजना गतिविधियों के प्रमुख के रूप में इसके बाद भारत के राष्ट्रपति द्वारा गेल के निदेशक मंडल में निदेशक (परियोजना) के रूप में नियुक्ति।

श्री संतोष कुमार नवंबर 2006 से जून 2009 तक गेल में निदेशक (परियोजना) थे। गेल में अपने कार्यकाल के दौरान, वे ग्रीन गैस लिमिटेड, लखनऊ और महाराष्ट्र नेचुरल गैस लिमिटेड, पुणे के अध्यक्ष और सेंट्रल यूपी गैस लिमिटेड, कानपुर, नेटगैस, मिस्र और जीएसईजी के निदेशक मंडल में रहे और रत्नागिरी गैस एंड पावर प्रा. लि.,

दाभोल के पहले मंडल के निदेशक थे। वे सितंबर 2009 से अगस्त 2010 तक जीएसपीएल, अहमदाबाद के सलाहकार थे।

वे मेसर्स इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड के मंडल में अतिरिक्त निदेशक (स्वतंत्र) भी हैं। श्री कुमार परियोजना वित्त एसबीयू, भारतीय स्टेट बैंक के सलाहकार (तेल और गैस) भी हैं।

श्री राज किशोर तिवारी

निदेशक

श्री राज किशोर तिवारी को स्वतंत्र गैर कार्यकारी निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है।

उन्होंने बीएससी (ऑनर्स) और (भौतिकी) एमएससी लखनऊ, विश्वविद्यालय से, एमएससी (राजकोषीय अध्ययन) बाथ विश्वविद्यालय, ब्रिटेन से और एलएलबी मुंबई विश्वविद्यालय से किया।

श्री तिवारी भारतीय राजस्व सेवा में अधिकारी भर्ती हुए थे और 1976 से प्रत्यक्ष कर प्रशासन का हिस्सा रहे। उन्हें प्रत्यक्ष करों से संबंधित मामलों में करीब 38 साल की विशेषज्ञता और व्यापक अनुभव है और केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) से सदस्य और अध्यक्ष के रूप में सेवानिवृत्त हुए। वे भारत सरकार की प्रत्यक्ष कर नीति में सक्रिय रूप से निर्माण, कार्यान्वयन और प्रशासन में शामिल रहे।

सीबीडीटी के एक सदस्य/ अध्यक्ष के रूप में, उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार/ सम्मेलन यानि कर प्रशासकों का राष्ट्रमंडल एसोसिएशन (सीएटीए), अक्टूबर 2012 में माल्टा में संगोष्ठी; दिसंबर 2013 में मार्राकेश, मोरक्को में अंतर्राष्ट्रीय कर वार्ता (आईटीडी) संगोष्ठी; और मई 2014 में रियो डी जनेरियो, ब्राजील में अंतर अमेरिकी केंद्र के कर प्रशासन के सम्मेलन में भाग लिया, और प्रभावी ढंग से भारत की स्थिति प्रोजेक्टेड की। सिएट ने अब वर्तमान एसोसिएट सदस्यता के बदले भारत को स्थायी सदस्यता की पेशकश की है।

श्री सुनील एम रानाडे

मुख्य वित्तीय अधिकारी, एसएमजी सदस्य

श्री सुनील एम रानाडे, 54 वर्ष के हैं, वे हमारी कंपनी के मुख्य वित्तीय अधिकारी हैं। वे 1 मार्च 1996 को हमारी कंपनी में शामिल हुए. उन्होंने बंबई विश्वविद्यालय से वाणिज्य में स्नातक की डिग्री प्राप्त की है।

वे इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया के एसोसिएट सदस्य और इंस्टीट्यूट ऑफ कम्पनी सेक्रेटरी ऑफ इंडिया के सदस्य हैं। हमारी कंपनी में, वे वित्त और लेखा समूह के कार्यात्मक प्रमुख हैं और कंपनी के वित्तीय और रणनीतिक उद्देश्यों को प्राप्त करने में वित्त, लेखा और फोरकास्टिंग का प्रबंध करते हैं। हमारी कंपनी ज्वाइन करने से पहले, वे वांडर लिमिटेड में वित्त प्रबंधक और कंपनी सचिव थे। उन्होंने हेर्दिलिया पॉलिमर लिमिटेड, नेशनल पेरॉक्साइड लिमिटेड, गुडलास नेरोलैक पेंट्स लिमिटेड और अशोक आर्गनिक इंडस्ट्रीज लिमिटेड में भी काम किया है।

श्री राजेश पी वागले

प्रमुख - वाणिज्यिक, एसएमजी सदस्य

श्री राजेश पी वागले, 50 वर्ष, हमारी कंपनी के प्रमुख वाणिज्यिक हैं। उन्होंने 22 जुलाई 2002 को हमारी कंपनी ज्वाइन की. वे मुंबई के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से केमिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री प्राप्त हैं। वे उर्बना शेंपेन में इलिनोइस विश्वविद्यालय से कंप्यूटर साइंस में मास्टर की डिग्री भी प्राप्त हैं। हमारी कंपनी में, वे वाणिज्यिक, व्यवसाय विकास और विपणन समूह के कार्यात्मक प्रमुख हैं। हमारी कंपनी ज्वाइन करने से पहले, उन्होंने क्वांटम इन्फार्मेशन सिस्टम्स लिमिटेड, एनरॉन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और गेल के साथ काम किया है।

श्री श्रीनिवासन मुरली

प्रमुख, संचालन और रखरखाव, एसएमजी सदस्य

श्री श्रीनिवासन मुरली, 52, हमारी कंपनी के संचालन और रखरखाव प्रमुख हैं। वे 3 अक्टूबर , 2002 को हमारी कंपनी में शामिल हुए. उन्होंने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से प्रौद्योगिकी और मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री प्राप्त की है। वे प्रबंधन में डिप्लोमा और एडवांस्ड डिप्लोमा प्राप्त हैं, और इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय से वित्तीय प्रबंधन में डिप्लोमा प्राप्त हैं। हमारी कंपनी में, वे संचालन, रखरखाव और पैमाइश विभागों के कार्यात्मक प्रमुख हैं और नेतृत्व और प्रबंधन के लिए जिम्मेदार हैं और हमारी कंपनी की संपत्ति संचालन और रखरखाव से संबंधित सभी गतिविधियों के लिए दिशा प्रदान करना सुरक्षित रूप से और अधिकतम अपटाइम के साथ। हमारी कंपनी ज्वाइन करने से पहले, उन्होंने बिल्ट केमिकल्स लिमिटेड, कैबोट इंडिया लिमिटेड, सीमेंट कार्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड और इंडियन एल्युमिनियम कंपनी लिमिटेड के साथ काम किया है।

श्री टी. एल. शरणागत

हेड -कॉन्ट्रैक्ट्स एंड प्रोक्योरमेंट- एसएमजी सदस्य

४९ वर्षीय श्री टी.एल. शरणागत हमारी कंपनी के कॉन्ट्रैक्ट्स, प्रोक्योरमेंट, इनवेंटरी मैनेजमेंट और स्टोर्स के प्रमुख हैं| आप मई २००८ के दौरान हमारी कंपनी से जुडे| आपके पास गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग जबलपुर से मेकैनिकल इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री है | आपके पास मार्केटिंग मैनेजमेंट में एमबीए की डिग्री भी है | आप आईएसएम यूएसए से सप्लाई चेन मैनेजमेंट में सर्टिफाइड प्रोफेशनल (सीपीएसएम) हैं| आपके पास एक्सपोटर्स मैनेजमेंट में डिप्लोमा है | आप संस्थान के लिए सभी सप्लाई चेन, इनवेंटरी और प्रोक्योरमेंट गतिविधियों में नेतृत्व, प्रबंधन और दिशा देने के लिए जिम्मेदार हैं| श्री शरणागत के पास पर्चेजिंग, कॉन्ट्रैक्ट्स, इम्पोटर्स, इनवेंटरी मैनेजमेंट में २६ वर्ष से अधिक का अनुभव है जिसमें एसएपी क्रियान्वयन जैसे अनेक क्षेत्रों का कौशल शामिल है | हमारे साथ जुडने से पहले, आप एल एंड टी और गेल (इंडिया) लिमिटेड जैसे संस्थानों के साथ काम कर चुके हैं|

श्री चक्रपानी आत्माकुर

उपाध्यक्ष - मानव संसाधन और कॉर्पोरेट संचार - एसएमजी

श्री चक्रपानी आत्माकुर, 52 वर्ष, हमारी कंपनी के मानव संसाधन और कॉर्पोरेट संचार के उपाध्यक्ष हैं। वे जनवरी 2019 में हमारी कंपनी में शामिल हुए। वे एसके विश्वविद्यालय, अनंतपुर, एपी से एचआर में एमबीए हैं। वे मार्गदर्शन, प्रबंधन और रणनीति प्रदान करने के जिम्मेदार मानव संसाधन के कार्य प्रमुख हैं। श्री चक्रपानी को एचआर के संपूर्ण पहलुओं का 28 वर्षों से अधिक का समृद्ध अनुभव है। हमारे साथ आने से पहले, वे एसआई ग्रुप (आई) प्रा लि, ओवंस कॉर्निंग (आई) लि और मे इंडियन पेट्रोकेमिकल्स कॉर्पोरेशन जैसे संगठनों के साथ काम कर चुके हैं।